Thursday ,25th July 2024

मुख्यमंत्री डॉक्टर मोहन यादव ने खोला विकास का पिटारा विधायकों को मिलेंगे 4 साल में 60 करोड़.

प्रतिवर्ष विकास कार्य पर खर्च करेंगे 15 करोड रुपए........
_____________________ 
मुख्यमंत्री के मिशन 2028 में लड्डू गोपाल भी........
______________________
भोपाल।मंगलवार का दिन देश- प्रदेश में गर्माहट वाला रहा लेकिन इस गर्माहट के बीच शाम को प्रदेश की राजधानी भोपाल में प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने मिशन 2028 की तैयारी करते हुए मुख्यमंत्री निवास के समत्व भवन से विकास के रोडमैप पर फोकस किया। 
मुख्यमंत्री ने सबसे पहले अपने पार्टी के विधायकों को चैतन्य के साथ ग्वालियर-चंबल के विधायकों से शुरुआत करते हुए सबका विकास प्रदेश का विकास का मंत्र फूंक दिया।
मिशन 2028 का श्री गणेश मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने चंबल के 6 और ग्वालियर के 12 विधायकों के साथ विकास मंथन से की। 
मुख्यमंत्री डॉक्टर मोहन यादव के मिशन 2028 पर प्रदेश के नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री राकेश शुक्ला (जो चंबल इलाके से आते हैं) वह कहते हैं कि मिशन 2028 के लिए मुख्यमंत्री मोहन यादव ने जीतने के लिए टास्क दिए हैं। जो जरूरी भी है। मुख्यमंत्री का मिशन 2028 लक्ष्य साधकर जीतने का मंत्र है। 
मंत्री राकेश शुक्ला बताते हैं कि ग्वालियर चंबल इलाके से मुख्यमंत्री ने विकास पर जोर देते हुए इस मिशन की शुरुआत की है। मुख्यमंत्री ने प्रत्येक विधायक को 2028 तक 4 साल में 60 करोड रुपए विकास कार्यों पर खर्च करने का निर्णय लिया है। प्रतिवर्ष 15 करोड रुपए प्रत्येक विधायक को सबके विकास के साथ प्रदेश के विकास के लिए दिए जा रहे हैं। राकेश शुक्ला बताते हैं कि मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने अपने नाम के स्वरूप विकास के रोड मैप में भगवान श्री कृष्ण को भी साथ रखा है। आने वाली श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर बहनों से राखी बंधवाने के साथ-साथ प्रत्येक विधायक की विधानसभा में जन्माष्टमी पर लड्डू गोपाल बटवाने का कार्यक्रम भी दिया है। सही भी है, विकास रोड के साथ-साथ भगवान का भजन दर्शन भी जरूरी है।मुख्यमंत्री के मिशन 2028 में निशुल्क चश्मे वितरित करने का कार्यक्रम भी रखा गया है। जो प्रत्येक विधानसभा में वितरित किए जाएंगे। 
मंत्री शुक्ला कहते हैं कि मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव के इस विज़न में किसान भी सर्वोपरि है। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों की आय अधिक हो। इसलिए इसके लिए फसल चक्र पर फोकस करना है। ताकि लाभ देने वाली फसलों को बढ़ावा मिल सके

Comments 0

Comment Now


Total Hits : 284661