Friday ,24th May 2024

राष्‍ट्र रक्षा के लिए वीरगति को प्राप्‍त हुए जवानों का प्राणोत्‍सर्ग सदैव राष्‍ट्रप्रेम के उच्‍च प्रतिमान स्‍थापित करने हेतु हमें प्रेरणा देगा-डीजीपी सक्‍सेना

पुलिस महानिदेशक ने शहीद पुलिस जवानों को दी श्रद्धांजलि


 भोपाल - पुलिस महानिदेशक सुधीर सक्‍सेना ने शहीदों के परिजनों को भरोसा दिलाया कि उनके साथ मध्यप्रदेश सरकार, पुलिस प्रशासन और संपूर्ण समाज है। समाज में शांति सद्भाव और भाईचारे के वातावरण को मजबूत रखने से ही विकास का मार्ग प्रशस्त होगा। सक्‍सेना आज पुलिस स्मृति दिवस कार्यक्रम में लाल परेड मैदान स्थित शहीद स्मारक प्रांगण में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने देश और प्रदेश के सभी शहीद पुलिस अधिकारियों और जवानों को श्रद्धांजलि दी। कार्यक्रम में मुख्‍य सचिव इकबाल सिंह बैंस,अपर मुख्य सचिव गृह डॉ राजेश राजौरा तथा भोपाल महापौर श्रीमती मालती राय भी मौजूद थी।

पुलिस महानिदेशक सुधीर सक्‍सेना ने कहा कि 21 अक्टूबर देश की अखंडता की रक्षा तथा आंतरिक सुरक्षा को बनाये रखने में पुलिस एवं अर्द्धसैनिक बलों के बलिदान की स्मृति का दिन है। वर्ष 1959 में 21 अक्‍टूबर के दिन 16 हजार फीट की ऊँचाई पर लद्दाख के दुर्गम हॉट स्प्रिंग्स में उप निरीक्षक श्री करम सिंह के नेतृत्व में सीआरपीएफ के गश्‍ती दल की टुकड़ी के 10 जवान चीनी सेना के साथ मुठभेड़ में शहीद हो गये थे। उन्‍हीं की कर्तव्‍य परायणता एवं राष्‍ट्र रक्षा के लिए किए गए प्राणोत्‍सर्ग की स्मृति में देश की सभी पुलिस इकाईयाँ 21 अक्‍टूबर का दिन पुलिस स्‍मृति दिवस के रूप में मनाती हैं। हमारे मध्‍यप्रदेश पुलिस के वीर जवानों व अधिकारियों ने भी कश्‍मीर से लेकर तमिलनाडू और गोवा से लेकर नागालैंड तक अपनी सेवाएं और शहादत दी है।

 इस वर्ष ड्यूटी के दौरान हमारे 16 जवानों ने अपने प्राणों की आहुति दी है। शहीद कर्मियों में कार्यवाहक निरीक्षक स्‍व. कचरूलाल राठौर, उप निरीक्षक स्‍व. राजकुमार जाटव, सहायक उप निरीक्षक स्‍व. सुरेश चौहान, उप निरीक्षक स्‍व.  विनोद शंकर यादव, कार्यवाहक सहायक उप निरीक्षक स्‍व.  बलीराम धाकड़, प्रधान आरक्षक स्‍व. नीरज भार्गव, प्रधान आरक्षक स्‍व.श्री बच्‍चू सिंह जाट, कार्यवाहक प्रधान आरक्षक स्‍व.मानसिंह भूरा, कार्यवाहक प्रधान आरक्षक स्‍व.श्री राजेन्‍द्र सिंह यादव, कार्यवाहक प्रधान आरक्षक स्‍व.श्री लक्ष्‍मीनारायण गौर, आरक्षक स्‍व.श्री अमरदीप चौधरी, आरक्षक चालक स्‍व.श्री रणजीत डोडवे, आरक्षक स्‍व.श
संतराम मीना, आरक्षक स्‍व. सत्‍येन्‍द्र सिंह दांगी, आरक्षक स्‍व.श्री कमलेन्‍द्र यादव एवं आरक्षक स्‍व.श्री ऋषिकेश गुर्जर शामिल हैं।

पुलिस स्‍मृति दिवस पर हम सब अपने इन साथियों को श्रद्धा सुमन अर्पित करते हैं। साथ ही उनके परिजनों को आश्‍वस्‍त करना चा‍हते हैं कि आप सब हमारे पुलिस परिवार का हिस्‍सा हैं तथा सदैव बने रहेंगे।

      प्रदेश में कानून व्‍यवस्‍था की स्थिति सुदृढ़ है। मध्‍यप्रदेश पुलिस हर हाल में शांति, कानून-व्‍यवस्‍था और विकास के माहौल को कायम रखने के लिए दृढ़ सं‍कल्पित है। आंतरिक सुरक्षा के मोर्चे पर हमारी पुलिस कुशलता और संवेदनशीलता से निरंतर काम कर रही है।

मैं आप सभी को आश्‍वस्‍त करता हूँ भविष्‍य में भी इसी सक्षम निष्‍ठा से हम सेवाऍ देते रहेंगे। मैं प्रदेश की शांतिप्रिय जनता को भी धन्‍यवाद ज्ञापित करना चाहूंगा जिसके अनुशासित एवं भाईचारा पूर्ण आचरण से आज हमारे प्रदेश की देश में साख बनी है।

मध्‍यप्रदेश में पुलिस जवानों और अधिकारियों की लगातार कठिन ड्यूटी को देखते हुए उनके परिजनों की सुख-सुविधाओं और कल्‍याण के प्रति सरकार का पूरा ध्‍यान है। शहीद के परिजनों की आर्थिक एवं सामाजिक सुरक्षा को ध्‍यान में रखते हुए नियमानुसार सहायता एवं सुविधाएं उपलब्‍ध करवाने के लिए विभाग दृढसं‍कल्पित है। राष्‍ट्र रक्षा के लिए वीरगति को प्राप्‍त हुए जवानों का प्राणोत्‍सर्ग सदैव राष्‍ट्रप्रेम के उच्‍च प्रतिमान स्‍थापित करने हेतु हमें प्रेरणा देगा। उन्‍होंने कहा कि मैं एक बार पुन: शहीद पुलिस जनों की पुण्‍य स्‍मृतियों को नमन करते हुए उनके प्रति श्रद्धांजलि अर्पित करता हूँ और उनके परिजनों के कल्‍याण की कामना करता हूँ।

पुलिस महानिरीक्षक इरशाद वलि ने माननीय राज्‍यपाल महोदय के संदेश का वाचन किया। उन्‍होंने अपने संदेश में कहा कि देश के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले शहीद जवानों को मैं सलाम करता हूँ। उनके प्रति श्रद्धांजलि अर्पित करता हूँ। पुलिस स्‍मृति दिवस बल के शौर्य और वीरता पर गर्व करने का अवसर है। हमारे पुलिस बलों में देश के भरोसे की अभिव्‍यक्ति का भी दिन है। अपना सर्वोच्‍च बलिदान देने वाले पुलिस बलों के ये सभी वीर शहीद, हमारे देश-प्रदेश की स्‍मृति में सदा अमर रहेंगे। मैं शहीदों के परिजनों के प्रति कृतज्ञता व्‍यक्‍त करते हुए, उन्‍हें भरोसा दिलाता हूँ कि इस घड़ी में वे अकेले नहीं हैं। मध्‍यप्रदेश सरकार, पुलिस प्रशासन और संपूर्ण समाज उनके साथ है।

पुलिस स्‍मृति दिवस पर हमारे अमर शहीदों का स्‍मरण कर, उनके बलिदान से प्रेरणा लेने, उनके प्रति कृतज्ञ होना ही हमारी श्रद्धांजलि होगी। मुझे विश्‍वास है कि हमारे बहादुर पुलिस बल के सेवा एवं सर्मपण भाव से सभी पुलिस जनों को प्रेरणा मिलेगी। आप सभी का भविष्‍य उज्‍जवल हो आप स्‍वस्‍थ और खुशहाल रहें, मेरी मंगलकामनाएं।

            कार्यक्रम के दौरान पुलिस बैंड द्वारा निकाली जा रही देशभक्ति के गीतों की मधुर धुन के बीच शहीदों को पुष्पांजलि अर्पित कर श्रद्धांजलि दी गई। इसके अलावा विशेष पुलिस महानिदेशक पवन जैन, अरविन्‍द, श्री शैलेष सिंह, अतिरिक्‍त पुलिस महानिदेशक, श्री अशोक अवस्‍थी,  जी.पी.सिंह, विपिन माहेश्‍वरी, श्रीमती अनुराधा शंकर, श्रीमती सुषमा सिंह, श्रीमती प्रज्ञा ऋचा श्रीवास्‍तव,  मकरंद देउस्‍कर,  विजय कटारिया,  संजीव शमी, श्री एस.डब्‍ल्‍यू नकवी ,शजी जर्नादन, पुलिस आयुक्‍त  मकरंद देउस्‍कर, पुलिस महानिरीक्षक इरशाद वलि, पुलिस पुलिस उप महानिरीक्षक श्रीमती कृष्‍णावेणी देसावतु, सचिन अतुलकर, सेनानी 7 वीं वाहिनी अतुल सिंह, सेवानिवृत्‍त पुलिस अधिकारी सुरेन्‍द्र सिंह, शऋषि कुमार शुक्‍ला,  राजेन्‍द्र कुमार, जी.एस.माथुर सहित सभी वरिष्ठ अधिकारियों ने भी पुष्प चक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। आरंभ में पाल-बेयरर पार्टी द्वारा सम्मान सूची को स्मारक कोष में स्थापित किया गया और शहीद स्मारक को सलामी दी गई। आयोजित परेड का नेतृत्व भारतीय पुलिस सेवा की अधिकारी सुश्री प्रियंका शुक्‍ला ने किया। परेड के टू-आई-सी उप पुलिस अधीक्षक श्री रवि शर्मा रहे। परेड में महिला प्लाटून विशेष सशस्त्र बल एवं जिला बल की संयुक्त टुकड़ी, विशेष सशस्त्र बल की पुरूष प्लाटून, पुलिस बैंड प्लाटून, श्वान दल और अश्‍व दल की टुकड़ियाँ शामिल थी

Comments 0

Comment Now


Total Hits : 278417