Monday ,20th May 2024

प्रभारी मंत्री ने किया नवीन पुलिस चौकी भवन मड़वास का लोकार्पण

सद्भावना के साथ काम करे अधिकारी,कर्मचारी----मीना क्षेत्र को चाहिए थाना,तहसील,एंव कॉलेज------टेकाम राजेश सिंह गहरवार सीधी सीधी,मझौली, - विगत17 जुलाई दिन शनिवार को जिला योजना समिति की बैठक में शरीक होने पहुंची मध्यप्रदेश शासन के जनजाति कार्य व अनुसूचित जाति कल्याण विभाग एवं जिले के प्रभारी मंत्री मानपुर विधायक सुश्री मीना सिंह मांडवे द्वारा मझौली थाना क्षेत्र अंतर्गत मड़वास में लगभग 26 लाख रुपए की लागत से नवनिर्मित पुलिस चौकी भवन का लोकार्पण बतौर मुख्य अतिथि के रूप में किया, कार्यक्रम की अध्यक्षता क्षेत्रीय विधायक कुमार सिंह टेकाम द्वारा किया गया जहां पर विशिष्ट अतिथि के रूप में सीधी जिले के लोकप्रिय सांसद रीति पाठक ,भाजपा जिला अध्यक्ष इंद्र शरण सिंह, चुरहट विधायक सरतेन्दु तिवारी, जिला कलेक्टर रविंद्र कुमार चौधरी, पुलिस अधीक्षक पंकज कुमावत, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुश्री अंजूलता पटले मंचासीन रहे। जहां पर विधि पूजन के साथ नवनिर्मित पुलिस चौकी भवन का फीता काटकर लोकार्पण किया गया तत्पश्चात पुलिस प्रशासन द्वारा माल्यार्पण व पुष्प गुच्छ प्रदान कर सभी अतिथियों का स्वागत सम्मान किया गया। आरक्षक मझौली प्रतीक्षा तिवारी द्वारा सुमधुर ध्वनि में स्वागत गीत के माध्यम से सभी अतिथियों का स्वागत किया गया। कार्यक्रम के दौरान जन समुदाय को संबोधित करते हुए प्रभारी मंत्री मीना सिंह द्वारा कहा गया कि हमारी सरकार जनहित कार्य के लिए समर्पित है क्षेत्र के विकास में निरंतर प्रगति हो रही है । अधिकारी कर्मचारी सद्भावना स्वरूप काम करें ताकि लोग उनके पास आने से डरे नहीं कुछ कार्य या अपराध जल्दबाजी में बिना जांच के कर दिए जाते हैं जिससे निर्दोष लोग इसका शिकार हो रहे हैं बिना जांच के संदेहस्प्रद अपराध कायम न किया जाए साथ ही जो अपराधी है उसे बख्शा भी ना जाए। इसी तरह से कार्यक्रम का बारी बारी से सभी अतिथियों द्वारा संबोधित किया गया। क्षेत्रीय विधायक धौहनी कुंवर सिंह टेकाम द्वारा अपने उद्बोधन में कार्यक्रम में पधारे प्रभारी मंत्री सहित सभी अतिथियों का आभार ज्ञापित करते हुए कहा गया कि हमारे एक छोटे से आग्रह में हमारी प्रभारी मंत्री ने हमारे इस छोटे से क्षेत्र में आकर हम लोगों के मनोबल को बढ़ाया है इसके लिए हम सदैव आभारी रहेंगे उद्बोधन के दौरान ही क्षेत्रीय विधायक द्वारा थाना तहसील एवं कॉलेज की मांग रखते हुए कहा गया कि आज से कई वर्ष पूर्व जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान क्षेत्रीय लोगों के मांग पर मड़वास को थाना एवं तहसील को दर्जा देने की घोषणा की गई थी लेकिन आज तक पूर्ण नहीं की गई है। वही एग्रीकल्चर कॉलेज की मांग करते हुए कहा गया कि हमारा क्षेत्र अधिकांश लोगों का जीवन यापन कृषि पर आधारित है जो कृषि आधारित शिक्षा के अभाव में अच्छी खेती नहीं कर पाते यदि क्षेत्र में एक एग्रीकल्चर कॉलेज खोल दिया जाए तो एग्रीकल्चर संबंधी शिक्षा ग्रहण कर हमारे नवयुवक कृष पैदावार को बड़वा दे सकते हैं। कार्यक्रम का मंच संचालन रोहिणी रमण मिश्रा उपसरपंच चदौहीडोल द्वारा किया गया। कार्यक्रम की व्यवस्था पुलिस प्रशासन द्वारा पुलिस अधीक्षक एंव अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के निर्देशन तथा एसडीओपी कुसमी मझौली आर के शुक्ला के मार्गदर्शन थाना प्रभारी मझौली सतीश मिश्रा चौकी प्रभारी केदार परोहा के नेतृत्व में पुलिस बल द्वारा किया गया। *मंडल एवं निगरानी समिति अध्यक्ष ने सौंपा मांग पत्र* कार्यक्रम के दौरान क्षेत्र विकास को लेकर भाजपा मंडल अध्यक्ष मड़वास कृष्ण लाल पयासी छोटू के द्वारा 2 पेज नव बिंदुओं का मांग पत्र प्रभारी मंत्री को सौंपा गया है जिसमें मुख्य रुप से मड़वास में थाना, तहसील एवं कॉलेज की मांग रखी गई है वहीं ग्राम पंचायत धनशेर के निगरानी समिति अध्यक्ष अमरनाथ तिवारी द्वारा प्रभारी मंत्री को आवेदन पत्र सौप पहुंच मार्ग विहीन विद्यालय भवन तक मार्ग निर्माण कराए जाने की मांग की गई है। *आवेदन पत्रों पर निराकरण कर सूचित करने के दिए निर्देश* कार्यक्रम के दौरान क्षेत्रीय लोगों द्वारा व्यक्तिगत एवं सार्वजनिक हित की मांगों को लेकर सौंपे गए आवेदन पत्र पर प्रभारी मंत्री द्वारा तत्काल विभाग बार कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक को सौपते हुए कहा गया कि सभी आवेदन पत्रों में निष्पक्षता पूर्वक कार्यवाही कर हमें सूचित करें ताकि जब मैं दोबार औऊ लोग मुझसे पूछे तो मैं उनको बता सकूं की यह कार्यवाही आपके आवेदन पत्र में हुई है। *शिक्षा और स्वास्थ्य व्यवस्था पर जाहिर की असमर्थता* कार्यक्रम के समापन उपरांत जिले की बदहाल शिक्षा एवं स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर मीडिया द्वारा प्रभारी मंत्री से व्यवस्था को लेकर सवाल किया गया जिस पर प्रभारी मंत्री द्वारा असमर्थता जाहिर करते हुए कहा गया कि ग्रामीण क्षेत्रों में कोई नौकरी करने को तैयार नहीं है हमारी सरकार ग्रामीण क्षेत्रों में नौकरी करने वालों को वेतन भी ज्यादा दे रही है फिर भी कोई आने को तैयार नहीं है क्या किया जाए जब मीडिया सवाल किया गया कि क्या सरकार व्यवस्था नहीं बना सकती तब जाकर कहा गया कि व्यवस्था बनाने का प्रयास किया जाएगा बता दें कि जिले भर में कई विद्यालय भवन एवं उप स्वास्थ्य केंद्र के भवन बनकर तैयार हैं जो शिक्षक व डॉक्टर के अभाव में कंडम हो रहे हैं यहां तक की मझौली क्षेत्र में ऐसे नवीन भवन धरा शाही हो गए हैं जिन का लोकार्पण तक नहीं हुआ है यहां तक की मझौली में दर्जनभर डॉक्टरों की भूमिका 2--3 डॉक्टर निभा रहे हैं लाखों की एक्सरे मशीन ऑपरेटर के अभाव में कंडम हो चुकी है एक्सरे कराने के लिए मझौली वासियों को 50 किलोमीटर की दूरी तय कर सीधी जाना पड़ रहा है वही योग्य शिक्षक के अभाव में दिन प्रतिदिन शिक्षा का स्तर गिरता जा रहा है।

Comments 0

Comment Now


Total Hits : 278103