Tuesday ,21st May 2024

शहीद हेमू कालानी एजुकेशनल सोसाइटी के विद्यालयों में पुनः प्रारम्भ हुआ ऑनलाइन शिक्षण

शहीद हेमू कालानी एजुकेशनल सोसाइटी के विद्यालयों में पुनः प्रारम्भ हुआ ऑनलाइन शिक्षण शासन के आदेशानुसार कोरोना कर्फ्यू में 1 जून से कुछ गतिविधियों में छूट प्रदान की गई है। यद्यपि स्कूलों को बंद रखा गया है किंतु ऑनलाइन शिक्षण प्रारम्भ करने की छूट दी गई है। इसी परिप्रेक्ष्य में परमहंस संत हिरदाराम साहिबजी के आशीर्वाद से स्थापित एवं श्रद्धेय सिद्ध भाऊजी की प्रेरणा व मार्गदर्शन में संचालित शहीद हेमू कालानी एजुकेशनल सोसाइटी के समस्त आठ विद्यालयों में 1 जून से पुनः ऑनलाइन शिक्षण प्रारम्भ कर दिया गया है। ये विद्यालय हैं, विद्यासागर पब्लिक स्कूल और उसके दो सहयोगी स्कूल, मिठी गोबिंदराम पब्लिक स्कूल, नवनिध हासोमल लखानी पब्लिक स्कूल, केवलराम चेनरॉय पब्लिक स्कूल, करोंद (एक सहयोगी स्कूल सहित) एवं गांधीनगर भोपाल स्थित चिल्ड्रेन्स होप इंडिया गर्ल्स स्कूल। उल्लेखनीय है कि कॅरोना महामारी की दूसरी लहर को ध्यान में रखकर शासन के निर्देशानुसार न केवल स्कूलों को अप्रैल व मई माह में बन्द रखा गया बल्कि मई माह में, बोर्ड परीक्षार्थियों के क्लासों को छोड़कर, ऑनलाइन शिक्षण भी बंद रखा गया ताकि बच्चों में तनाव न हो। फिर भी बच्चों की पढ़ाई का तारतम्य भंग न हो इसलिए इन स्कूलों द्वारा उन्हें मई माह के लिए गृह कार्य दिया गया। अब चूंकि कॅरोना के केस कम हो रहे हैं और ऑनलाइन कक्षाओं के संचालन की छूट दे दी गई है, अतः इन स्कूलों में डिजिटल मोड पर शिक्षण प्रारम्भ कर दिया गया है। इसके लिए अध्यापकों ने पहले से ही लेसन प्लान आदि की तैयारी कर रखी थी। जैसे ही जिलाधीश महोदय का आदेश 31 मई की शाम को प्रसारित हुआ, प्रबंधन ने ऑनलाइन शिक्षण का तुरंत फैसला ले लिया और विद्यार्थियों को लिंक भेज दी गई। अभिभावकों व विद्यार्थियों ने इस निर्णय का स्वागत ह्रदय से किया और अपनी अच्छी ऑनलाइन उपस्थिति दर्ज की। उपरोक्त के परिप्रेक्ष्य में राजधानी की इस अग्रणी शैक्षणिक संस्था ने अपने स्कूलों में डिजिटल माध्यम से बच्चों की पढ़ाई जारी रखने का स्वागतयोग्य निर्णय लिया है। इस हेतु समस्त सेक्शनों के अलग अलग व्हाट्सएप्प ग्रुप बनाये गए हैं। प्रतिदिन निर्धारित टाइम टेबल अनुसार सब्जेक्ट टीचर्स विद्यार्थियों को ज़ूम एप्प की लिंक भेजते हैं और निर्धारित समय पर ऑनलाइन कक्षाएं प्रारम्भ हो जातीं हैं। इसकी सतत मॉनिटरिंग कोऑर्डिनेटर्स, वाईस प्रिंसिपल, प्रिंसिपल और हेडमिस्ट्रेस द्वारा की जाती है । उल्लेखनीय है कि शासन, सी बी एस ई एवं अन्य शिक्षण से संबंधित संस्थाओं ने वर्तमान परिस्थितियों में ऑनलाइन शिक्षण पर जोर दिया है। इस हेतु दीक्षा, ई-पाठशाला, सवयंम व निष्ठा, रेडियो आदि प्लेटफार्म इंटरनेट, रेडियो व टी वी पर उपलब्ध हैं जिन्हें विद्यार्थियों द्वारा प्रयोग में लाये जाने हेतु कहा जा रहा है। शहीद हेमू कालानी एजुकेशनल सोसाइटी का स्वयं द्वारा किया गया प्रयास इस मायने में प्रभावी है कि जो टीचर्स बच्चों को स्कूल में पढ़ातीं थीं, वे ही निर्धारित पाठ्यक्रमानुसार विषय वस्तु(वीडियो, पी पी टी आदि द्वारा) बनातीं हैं और गृह कार्य का मूल्यांकन करतीं हैं। पिछले वर्ष से इन ऑनलाइन कक्षाओं की प्रक्रिया प्राचार्यों की निगरानी से प्रभावी रूप से फलदाई सिद्ध हुई है।

Comments 0

Comment Now


Total Hits : 278187