Friday ,24th May 2024

*जनजाति विकास मंच का 9 अगस्त आदिवासी दिवस लिखने पर विरोध*

*मूलनिवासी दिवस के रुप में मनाया जाए 9 अगस्त आयोजन*

रिपोर्टर - भुपेन्द्र बरमण्डलिया


9 अगस्त विश्व मूलनिवासी दिवस को विश्व आदिवासी दिवस लिखना तथा भारत के जनजाति समाज से जोड़ने के विरोध को लेकर जनजाति विकास मंच झाबुआ द्वरा महामहिम राष्ट्रपति और राज्यपाल के नाम झाबुआ कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा। राज्य सरकार द्वारा आयुक्त आदिवासी को एक पत्र जारी किया गया था। जिसमें 9 अगस्त मूलनिवासी दिवस को विश्व आदिवासी दिवस लिखना बताया था। उक्त पत्र को लेकर जनजाति विकास मंच के कार्यकर्ता खासे नाराज है। जनजाति विकास मंच का कहना है कि 9 अगस्त मूलनिवासी दिवस यूएनओ द्वारा घोषित है जिसे विश्व आदिवासी दिवस लिखना तथा विश्व के मूल निवासियों को भारत के जनजाति समाज से जुड़ना घोर आपत्तिजनक है। जनजाति विकास मंच का इस विषय में कहना है कि क्या राज्य सरकार का यह कथन भारत सरकार के विपरित विरोध मे जाता है इसे स्पष्ट कर जनजाति विकास मंच ने मांग की है कि 9 अगस्त को मूलनिवासी दिवस के रूप में आयोजित किया जाए जिससे झाबुआ सहित जनजाति क्षेत्रों में अलगाववाद को बढ़ावा न मिल सके। इस अवसर जनजाति विकास मंच के कई कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Comments 0

Comment Now


Total Hits : 278422