Monday ,20th May 2024

रक्षा बंधन कोरोना इफेक्ट

रिपोर्टर - भुपेन्द्र बरमण्डलिया
 
                                             
 झाबुआ (मध्य प्रदेश ) -कोरोना का असर आम जनजीवन के साथ भाई की कलाई पर बंधने वाले रक्षा के बंधन पर भी दिखाई दे रहा है। संक्रमण से बचने के लिये कई बहनों ने भाई के घर जाना पोस्टपोंड कर दिया है तो कई बहनें... तकनिक का सहारा लेने को मजबूर है। कोरोना का असर डाक के माध्यम से सैनिकों व अन्य स्थानों पर पहुंचाई जाने वाली राखी की डाक पर भी पड़ा है। पिछले साल के मुकाबले इस बार राखियों की कम ही डाक बाहर जा रही है। सैनिकों को हर बार राखी भेजने वाली भूमिका कहती है.. उन्हे डर है कि कही डाक से भेजी गई किसी राखी से सैनिक भाईयों को संक्रमण न हो जाए। इसलिये वे इस बार राखियां नही भेज रही। वही रक्षाबंधन त्योहार के बावजुद बाज़ार से रौनक गायब है... दुकानदारों की बिक्री पिछले साल के मुकाबले 10 फीसदी रह गई है। हांलाकि दुकानदारों को उम्मीद है त्योहार के पास आते ही कुछ बिक्री बढ़ेगी। लिहाजा दुकानदारों ने विभिन्न वैरायटियों का स्टाॅक तैयार रखा है। इस बार राखियों में चीन का विरोध भी देखेने का मिल रहा है... दुकानदारों ने भारतीय बाज़ार की राखियों को तरज़ीह दी है।  

Comments 0

Comment Now


Total Hits : 278110