Tuesday ,21st May 2024

*गैर पंजीकृत ऑटो यूनियन ने मनमानी से तय किया किराया*

*गैर पंजीकृत ऑटो यूनियन ने मनमानी से तय किया किराया*
 
_विदिशा रोड पर बिना परमिट के चल रहे सैकडों डीज़ल सवारी ऑटो (आपे)_
 
भारत भूषण,7400794801
 
भोपाल । यूँ तो आपको शहर के हर कोने में ही सवारी ऑटो (आपे) फर्राटे भरते नज़र आ जाएंगे लेकिन विदिशा रोड पर नादरा बस स्टैंड से भानपुर, करोंद, और रासलखेड़ी मार्ग पर सैकड़ों की संख्या में ऑटो चल रहे हैं । केवल विदिशा रोड पर ही इतनी बड़ी संख्या में आपे ऑटो का बिना परमिट चलना परिवहन विभाग की उदासीनता को प्रदर्शित करता है । सूत्रों के अनुसार बड़ी बात यह है कि डीज़ल आपे चलाने वाले अधिकांश चालकों के पास लाइसेन्स तक नहीं होता, और न ही गाड़ी का बीमा, फिटनेस आदि का खयाल रखा जाता है । बिना वैध परमिट के अवैध रूप से चल रहे डीज़ल सवारी ऑटो चालक कई बार नशा कर लापरवाही से गाड़ी चलाते हैं, जिससे वाहन दुर्घटनाओं में खासा इज़ाफ़ा हुआ है । सूत्रों पर गौर करें तो नाबालिग ऑटो चालकों द्वारा आपे में क्षमता से अधिक सवारियां बैठा कर स्वयं के साथ दूसरों के जीवन से खिलवाड़ करना आम बात हो चली है । परिवहन विभाग इन सब गड़बड़ियों से दूर निश्चिंत नज़र आ रहा है, आलम यह है कि दुर्घटनाओं का कारण बनते जा रहे इन तीन पहिया वाहनों तथा चालकों पर अब तक कोई बड़ी कार्यवाही देखने को नहीं मिली ।
 
*_फ़र्ज़ी यूनियन बनाकर बढ़ा दिया किराया_*
बीते कुछ समय से अवैध तीन पहिया वाहन चालकों की मनमानी देखने को मिल रही है, कई बार ये लोग अधिक सवारियां बैठाने, ओवरटेक करने के कारण आपस मे ही लड़ जाते हैं तो कभी मनमाना किराया वसूलने, निश्चित स्टॉप तक न जाकर बीच मे ही सवारियों को उतारने पर आमजनों से भिड़ जाते हैं । हाल ही में "मध्यप्रदेश डीज़ल ऑटो यूनियन छोला रोड भोपाल" के नाम से पर्चे छाप कर चालकों ने अपनी मनमर्जी से किराए की नई दरें जारी कर दीं गईं हैं, हालांकि किराए में बढ़ोत्तरी होना नई बात नहीं है लेकिन बिना शासकीय अनुमति के पूर्णतः अवैध रूप से संचालित किये जा रहे तीन पहिया वाहन चालकों की यह मनमानी परिवहन विभाग को चुनौती देती दिख रही है ।

Comments 0

Comment Now


Total Hits : 278187