Friday ,24th May 2024

मौत पर सियासत

मौत पर सियासत
 
 सरगुजा - बीते 22 जुलाई को आदिवासी युवक पंकज बेक की मौत अब राजनैतिक रंग लेती जा रही है.. एक तरफ पंकज के मौत की जानकारी केन्द्रीय गृहमंत्री को देने के बाद रेणुका सिंह सरगुजा पहुंच कर मृतक के परिजनो से मुलाकात की.. और पुलिस अभिरक्षा मे मौत मामले को सीधे हत्या का मामला बता कर सीबीआई जांच की मांग की है. तो वही दूसरी ओर सूबे के मुख्यमंत्री के निर्देश पर परिजनो से मिलने पहुंचे प्रदेश के खाद्य मंत्री ने इस मामले मे सरकार का तो बचाव कियाय लेकिन पुलिस की कार्यप्रणाली पर उन्होने भी सवाल खडा किया है.. 
 
सरगुजा समेत समूचे प्रदेश की सियासत मे इन दिनो पुलिस कस्टडी मे लगातार मौत की चर्चा तेज हो गई है. सरगुजा मे एक महीने मे दूसरी मौत और छत्तीसगढ मे नई सरकार बनने के बाद सातवीं मौत का मामला प्रदेश से ऊपर राष्ट्रीय राजनीति तक पहुंच गया है, और यही वजह है कि सरगुजा के अधिना सलका के रहने वाले पंकज बेक की पुलिस कस्टडी मे मौत की खबर के बाद ही.. सरगुजा सासंद औऱ आदिवासी मामलो की केन्द्रीय राज्य मंत्री ने बिना देर किए केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की औऱ आदिवासी युवक पंकज की संदेहास्पद मौत की जानकारी शाह को दी. इतना ही नही इस मुलाकात के बाद श्रीमति सिंह ने तुरंत सरगुजा का दौरा बनाया औऱ सीधे जाकर मृतक पंकज के परिजनो से मिली.. रेणुका सिंह के मुताबिक पंकज की हत्या हुई है.. औऱ पीडित पक्ष को तुरंत न्याय मिलना चाहिए.. इतना ही नही अम्बिकापुर सर्किट हाउस मे मीडिया से चर्चा के दौरान रेणुका ने कहा कि जिस बेरहमी से समाज के रखवाले पुलिस वालो ने पकंज की पिटाई की है. उस तरह कि पिटाई तो नक्सली भी नही करते हैं... 
 
पुलिस पिटाई की तुलना नक्सली से करने के पहले रेणुका ने अम्बिकापुर सर्किट हाउस पहुंचते ही, सरगुजा आईजी के सी अग्रवाल, कलेक्टर सारांस मित्तर, एसपी अभिजीत सिंह से करीब एक घंटे तक घटना के संबध मे चर्चा की. दूसरी तरफ रेणुका सिंह के परिजनो से मिलने के पहले ही सीएम भूपेश बघेल के निर्देश पर जिले के सीतापुर विधायक औऱ भूपेश सरकार मे खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने भी पीडित परिवार से मुलाकात की और परिजनो से बात कर उन्होने पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खडे किए .. पर नई सरकार के सात महीनो मे सात लोगो की पुलिस कस्टडी मे मौत के सवाल पर उन्होने सरकार का बचाव किया और कहा कि सभी मामलो मे आऱोपी पुलिस वालो पर कार्यवाही हो रही है.. 
जानकारी के मुताबिक खाद्य मंत्री अमरजीत भगत मृतक पंकज बेक के रिश्तेदार है.. बहरहाल भाजपा पंकज बेक की आत्महत्या को हत्या बताकर दोषी पुलिस कर्मियो पर हत्या का मामला दर्ज करने की मांग कर रही है.. तो वही सूबे मे कांग्रेस सरकार के मंत्री भी मृतक के रिश्तेदार है... तो ऐसे पंकज बेक को न्याय की गुजाईंस बढ जाती है... हांलाकि मामले की न्यायिक जांच भी चल रही  है.. और सीबीआई जांच की मांग भी जारी है.. तो ऐसे मे देखना है कि इन जांच के बीच कही जांच की रफ्तार धीमी ना हो जाए.. जिससे पंकज को असल न्याय मिलने मे देर हो जाए। 

Comments 0

Comment Now


Total Hits : 278418