Monday ,20th May 2024

सामाजिक बहिष्कार के नाम पर लोगो का दोहन

सामाजिक बहिष्कार
 
 सामाजिक बहिष्कार के नाम पर समाज के ठेकेदारो द्वारा किस तरह अपने ही लोगो का दोहन किया जाता है, इसका जीता जागता नमूना छत्तीसगढ़ के जांजगीर जिले में देखने को मिला, जहाँ अन्तर्जातीय विवाह करने वाले युवक के पूरे परिवार को समाज से बाहर निकाल दिया गया। समाज मे दोबारा शामिल करने के लिए इनसे डेढ़ लाख रुपये मांगे गए, मगर पूरी रकम नहीं देने पर इन्हें प्रताड़ित किया जा रहा था। मामले की शिकायत पुलिस में किये जाने पर समाज के इन ठेकेदारों के बीच खलबली मच गयी है।
वीओ 1,जांजगीर चाम्पा छत्तीसगढ़ का ऐसा जिला है, जहाँ से बड़ी संख्या में लोग हर साल रोजी-रोटी के लिए पलायन करते हैं। यहां के पिहरिद गांव का दिलहरण कर्ष भी मजदूरी करने के लिए हर साल जम्मू राज्य चला जाता है। कुछ समय पूर्व ही उसने सोनी नामक युवती से अंतरजातीय विवाह किया था। इसकी जानकारी जब बरेठ याने धोबी समाज के पदाधिकारियों को लगी तो उन्होंने दिलहरण के पूरे परिवार को समाज से बाहर करने का ऐलान कर दिया। इससे इस परिवार पर मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा। समाज के लोगों ने इनसे मिलना जुलना छोड़ दिया। इससे परेशान दिलहरण ने समाज मे दोबारा शामिल होने की इच्छा जताई तो सामाजिक बैठक कराई गई, और इस परिवार पर डेढ़ लाख रुपये का जुर्माना ठोक दिया गया। दिलहरण ने बताया कि उसने किसी तरह 65 हजार रुपए का जुगाड़ किया और पदाधिकारियों को दिया, मगर थोड़े दिनों बाद वे बाकी रकम देने के लिए तांग करने लगे। परेशान होकर इस परिवार ने पुलिस की शरण ली।
 
 दिलहरण के पिता ने बताया की उनकी इतनी हैसियत ही नहीं है कि वे इतनी बड़ी रकम का जुगाड़ कर सकें। उसकी मां को ये चिंता सता रही है कि अगर उन्हें समाज मे शामिल नहीं किया गया तो उसके बाल बच्चों का क्या हो। वहीं वो ये सवाल भी उठा रही है कि समाज के पदाधिकारी आखिर इन रुपयों का करते क्या हैं? 
 
 दिलहरण के काफी मनुहार के बाद पुलिस ने इस मामले में धोबी समाज के मुखिया और अन्य पदाधिकारियों के खिलाफ एफ आई आर दर्ज किया है।
 
इस समाज केवल दिलहरण ही नहीं बल्कि ऐसे अनेक लोगों के परिवार हैं, जो सामाजिक बहिष्कार का दंश झेल रहे हैं। ऐसे परिवारों से दोबारा समाज में शामिल करने के नाम पर लाखों रुपए की उगाही की जाती है। इसमें से कुछ रकम समाज के हिस्से में दी जाती है, और शेष रुपयों की बंदरबांट कर ली जाती। पता चला है कि दूसरे पीड़ित परिवार भी अब मामले की शिकायत पुलिस में करने जा रहे हैं। फिलहाल पुलिस की जांच जारी है और समाज के ठेकेदारों के बीच खलबली मची हुई है।

Comments 0

Comment Now


Total Hits : 278103