Monday ,20th May 2024

शांति के टापू कहे जाने वाले मध्य प्रदेश में तेलंगाना बीजेपी के विधायक टाईगर राजा सिंह का विवादित बयान

अपने नेताओं के विवादित बयानों से परेशान रहने वाली बीजेपी सरकार एक बार फिर मुश्किल मैं है।इस बार मामला तेलंगाना बीजेपी विधायक से जुड़ा है। जिसने भोपाल के एक कार्यक्रम में अल्पसंख्यक समुदाय के खिलाफ बेहद भड़काऊ भाषण देकर मध्य प्रदेश बीजेपी को परेशानी मैं डाल दिया है।कोंग्रेस इस विधायक के खिलाफ मामला दर्ज करने की बात कह रही है और बीजेपी जवाब देने से बच रही है।

तेलंगाना बीजेपी से गोशमाला विधानसभा छेत्र के बेहद विवादास्पद विधायक टी राजा सिंह जिनके बोल भले ही शांति सदभावना कायम करे न करे,उनके ऊपर मुकदमा जरूर कायम करा देते है। बुलाया गया था इन्हें भोपाल के उपनगर बैरागढ में हनुमान जयंती के एक कार्यक्रम में शामिल होने। लेकिन नारों और तालियों की गड़गड़ाहट के जोश में होश खो बैठे विधायक महोदय अल्पसंख्यक समुदाय के खिलाफ भड़काऊ भाषण दे बैठे।
(वंदे मातरम कहना होगा नहीं तो भगा देंगे)
वैसे अक्सर ये भड़काऊ भाषण देते ही पाए जाते है लेकिन इस बार इन्होंने तमाम सीमाएं लांघते हुए मंच से अल्पसंख्यक समुदाय को गाली ही दे डाली।
.ये पहली बार नहीं है जब टाइगर के नाम से मशहूर राजा सिंह ने ऐसी भड़काऊ गर्जना की हो।सिर्फ 5 दिन पहले इन्होंने एलान किया था कि जो राम मंदिर के निर्माण में आड़े आएगा उसका सिर कलम कर दिया जायेगा।जिसके चलते उनपर तेलंगाना मैं मुकदमा कायम किया गया है।लेकिन शांति भंग करने समेत सांप्रदायिक सौहार्द बिगड़ने के कई मुक़दमे झेलने के बाद भी विधायक महोदय मानने को तैयार नहीं।ऐसे में मध्य प्रदेश कोंग्रेस ने सरकार से विधायक के खिलाफ मुकदमदर्ज करने की मांग की है।

भले ही नरेंद्र मोदी की भाजपा सरकार देश में सांप्रदायिक सौहार्द और विकास की सरकार चलने की बात करते हो लेकिन हकीकत में उनकी पार्टी के संवैधानिक पदों पर बैठे हुए नुमाइंदे उनके इरादों की हत्या करते नजर आते है।ये पहली बार नहीं है जब उनकी सत्ता वाले राज्यो के विधायकों ने अल्पसंख्यकों के खिलाफ जहर उगला हो जनवरी 2017 में मुरादाबाद के बीजेपी विधायक सुरेश राणा ने कहा कि चुनाव जीते तो कैराना मुरादाबाद मैं कर्फ़्यू लगाया जायेगा। यूपी के खतौली से बीजेपी विधायक विक्रम सैनी ने मार्च 2017 में कहा जो गौ वध करेगा उसके हाथ पैर तुड़वा देंगे।वंही बीजेपी के कई पदाधारियो ने भी ऐसे ही बयान देकर सरकार को सांसत मे डाला था चाहे वो उज्जैन में आरएसएस के पदाधिकारी का केरल के सीएम का सार काटने वाले को एक करोड़ का इनाम देने की बात हो या अलीगढ़ मैं पिछले हफ्ते ममता बनर्जी के सर  काटने वाले 11 लाख देने का इनाम देने का मामला बीजेपी सरकार की हर जगह फ़ज़ीहत यही नेता कराते आये है।लेकिन अब टाइगर राजा सिंह के इस बयान के बाद बीजेपी नेता मुंह छुपाते नजर आ रहे है।
शांति के टापू कहे जाने वाले मध्य प्रदेश में साम्प्रदायिक सदभाव बिगड़ने की ये कोई पहली कोशिश नहीं है।लेकिन सवाल उठता है कि क्या इस विधायक के खिलाफ मध्य प्रदेश सरकार कोई क़ानूनी कारवाही कर प्रदेश देश की जनता को ये सन्देश देने की कोशिश करेगी की प्रदेश में  साम्प्रदायिकता को सर उठाने नहीं दिया जाएगा।

 

विवादित बयान का विडियो सिर्फ सर्च स्टोरी के पास है

विडियो देखने के लिए लिंक पर जाये .https://youtu.be/Prwhk4X2PLQ

Comments 0

Comment Now


Total Hits : 278107